|

23वें कारगिल दिवस पर मंडी में शहीदों को किया याद

मंडी, 26 जुलाई : देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों के कारण ही आज हर देशवासी चैन की नींद सो पाता है और हमें सैनिकों और उनके परिवार जनों को हर सुविधा और सहयोग देने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए। यह बात एडीसी मंडी ने कारगिल दिवस पर आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कही।      

 इस दौरान मौजूद सभी ने शहर के इंदिरा मार्केट स्थित शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की और शहीदों की शहादत को नमन किया। इस अवसर पर एडीसी जतिन लाल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश वीरों की भूमि है और जिला से भी कई माताएं अपने बच्चों को देश की सरहदों की रक्षा के लिए भेजती है। उन्होंने कहा कि कारगिल की लड़ाई में मंडी जिला के भी 12 रणबांकुरों ने देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी जिसे देश व प्रदेश कभी नहीं भूला सकता। जतिन लाल ने कहा कि हमें हमेशा देश के शहीदों की शहादत को याद रखना चाहिए जिसके लिए आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है।

वहीं इस मौके पर एक्स सर्विस मैन लीग के अध्यक्ष रिटायर्ड कर्नल प्रताप सिंह ने बताया कि कारगिल दिवस देश के सैनिकों के अदम्य साहस और वीरता का दिन है। जिसमें देश के सैंकड़ों सैनिकों ने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि यह दिन देश की सेना के लिए एक गर्व का दिन है। वहीं उन्होंने बताया कि सरकार और प्रशासन की तरफ से कुछ सैनिकों के परिवारों को मिलने वाली सुविधाएं अभी तक नहीं मिली है। उन्होंने मांग उठाई है कि जो सुविधाएं पूर्व सैनिकों या उनके परिवार वालों को मिलनी हैं उन्हें तुरंत प्रभाव से प्रदान किया जाए।

   इस मौके पर जिला परिषद अध्यक्ष पाल वर्मा, नगर निगम मंडी के उप महापौर विरेंद्र भट्ट, पार्षद गण, एसडीएम रितिका जिंदल, एक्स सर्विस मैन लीग के अधिकारी, सदस्य व अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। सभी ने शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर शहीदों के बलिदान को याद कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी।