HPPR
| |

मणिकर्ण घाटी में आई बाढ़ में सुंदरनगर का 22 वर्षीय युवक लापता 

सुंदरनगर, 06 जुलाई : हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिला की मणिकर्ण घाटी के चोज गांव में बादल फटने के बाद से लापता जिला मंडी के सुंदरनगर निवासी रोहित के परिजन सदमे में हैं।

लापता युवक

गौरतलब है कि बादल फटने की घटना के बाद से चार व्यक्ति लापता बताए जा रहे हैं, जिनमें सुंदरनगर के कलौहड़ गांव का 22 वर्षीय रोहित भी शामिल है। परिजन रोहित की सलामती की दुआएं लगातार कर रहे हैं। रोहित अपने घर का इकलौता सहारा है। उसके घर में माता और एक बड़ी बहन है।

उसके पिता ताराचंद का वर्ष 2005 में सड़क हादसे में निधन हो गया है। माता मीरा देवी मिड डे मील वर्कर है। माता ने विकट परिस्थितियों में किसी तरह बच्चों का पालन पोषण किया। रोहित गत दो वर्षों से मणिकर्ण घाटी में पर्यटकों व अन्य लोगों के लिए कैंपिंग का कार्य करता है। रोहित के लापता होने से परिजनों सहित सभी लोग उसकी सलामती की दुआएं कर रहे हैं।

उधर, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कुल्लू प्रशासन को सख्त निर्देश दिए हैं कि क्षेत्र में जो भी अवैध रूप से कैंपिंग साइट चल रही हैं उन्हें बंद किया जाए ताकि किसी की जान पर आफत ना बने। और उन्होंने पर्यटकों से अपील की है कि बारिश के मौसम में पहाड़ी क्षेत्रों में ना जाएं।