HPPR

गोविंद राम शर्मा भी अध्यक्ष-उपाध्यक्ष की दौड़ में…

अमरप्रीत सिंह/सोलन
लोकसभा चुनाव में अर्की विधानसभा क्षेत्र से भाजपा को मिली बढ़त के बाद अब अर्की के पूर्व विधायक गोविंद राम शर्मा भी प्रदेश सरकार की ओर से नियुक्त किए जाने वाले अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हो गए हैं। गोविंद राम शर्मा अर्की से दो बार विधायक रहे और बीते विधानसभा चुनाव में उन्होंने अपनी सीट भाजपा उम्मीदवार रतन सिंह पाल के लिए छोड़ी थी और रतन सिंह पाल ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को करारी टक्कर दी थी। इस चुनाव में वीरभद्र सिंह 6051 मतों से विजयी हुए थे।

  इसी प्रकार लोकसभा चुनाव में अर्की विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी पूर्व विधायक गोविंद राम शर्मा ने बेहतर कार्य किया और यहां से भाजपा को 29,454 मतों की बढ़त दिलाई। इससे अर्की में गोविंद राम शर्मा का रूतबा और बढ़ा। अब वह अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं।

     पार्टी हित के लिए किए उनके त्याग का उन्हें फल मिल सकता है। गोविंद राम शर्मा अर्की क्षेत्र में अपने कुशल व्यवहार और सादगी के लिए जाने जाते हैं। दिन-रात वह पार्टी के कार्य में जुटे रहते हैं। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि गोविंद राम शर्मा को पार्टी अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद नवाज कर इसका इनाम दे सकती है।

प्रदेश सरकार शीघ्र ही खाली पड़े मंत्री के पदों और निगमों व बोर्डों के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पदों को भरने जा रही है। ऐसे में अर्की के लोगों को उम्मीद है कि गोविंद राम शर्मा को भी किसी निगम या बोर्ड में अध्यक्ष या उपाध्यक्ष पद पर काबिज किया जा सकता है। इसके लिए आजकल लॉबिंग तेज हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.