|

कायाकल्प में कुल्लू अस्पताल हिमाचल में अव्वल, 25 लाख का पुरस्कार

कुल्लू, 06 अगस्त : क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू ने एक बार फिर से स्वच्छता मानकों को स्थापित करते हुए प्रदेशभर में कायाकल्प में अव्वल स्थान पर अपना नाम दर्ज करवाया है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. नरेश ने कहा कि हाल ही में अस्पताल को शिमला में हुए एक समारोह में स्वच्छ भारत अभियान के तहत 25 लाख रुपये का पहला पुरस्कार प्रदान किया गया है।
डॉ. नरेश ने कहा कि जनपद में क्वालिटी एश्योरेंस कार्यक्रम के अन्तर्गत संचालित कायाकल्प अवार्ड योजना में जिला अस्पताल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 का कायाकल्प पुरस्कार जीता है। उन्होंने कहा कि अस्पताल के स्टाफ ने विभिन्न कार्यक्षेत्रों में उत्कृष्ट सेवाएं देकर कड़ी मेहनत की वजह से ही कायाकल्प पुरस्कार प्राप्त करना संभव हुआ है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुशील चन्द्र ने अस्पताल के स्टाफ को बधाई देते हुए बताया कि जिला अस्पताल को 2017-18 में भी स्वच्छता के उच्च मानकों तथा निजी स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए प्रदेशभर में प्रथम पुरस्कार मिल चुका है। उन्हें 10 लाख रुपये का यह पुरस्कार तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने दिल्ली में आयोजित एक विशेष सम्मान समारोह में प्रदान किया था। उन्होंने कहा कि इस पुरस्कार के उपरांत अगले चरण में अस्पताल ने एनक्यूएएस के लिये भी राष्ट्रीय स्तर पर क्वालीफाई करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया है।

डॉ. सुशील ने बताया कि जिला अस्पताल को वर्ष 2019 में आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभार्थियों के सर्वाधिक कार्ड बनाने के लिये राज्य का पहला पुरस्कार प्रदान किया जा चुका है। उन्हें यह पुरस्कार वर्तमान मुख्य सचिव आर.डी. धीमान द्वारा शिमला आईजीएमसी में एक सम्मान समारोह में प्रदान किया गया था।

गोविंद ठाकुर ने दी बधाई

क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू को दूसरी बार कायाकल्प में प्रथम पुरस्कार प्राप्त करने के लिये शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने डॉ. सुशील चंद, डॉ. नरेश व अस्पताल की पूरी टीम को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि डॉक्टरों व स्टाफ के समर्पण भाव तथा प्रतिबद्धता के कारण अस्पताल ने सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं को प्रोत्साहित करने तथा स्वच्छता और संक्रमण पर नियंत्रण करने के लिये मानक प्रोटोकॉल का पालन कर अनुकरणीय कार्य किया है जिसके लिये अनेक बार पुरस्कार मिल चुके हैं।

डीसी ने भी दी बधाई
उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी, चिकित्सा अधीक्षक तथा संबंद्ध स्टॉफ को प्रदेश में स्वच्छता में अव्वल स्थान अर्जित करने के लिये बधाई दी है। उन्होंने कहा कि इमानदारी, समर्पण व टीम भावना से कार्य करके कोई भी संस्थान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने में सक्षम बनता है।