HPPR
| | |

हिमाचल में दर्दनाक मंजर, गोविंद सागर झील से बरामद हो गए मोहाली के 7 युवकों के शव

ऊना, 01 अगस्त : हिमाचल प्रदेश के ऊना जनपद में गोविंद सागर झील के किनारे सोमवार शाम करीब 6ः30 बजे एक ऐसा मंजर था, जिसे देख हर कोई सिहर उठा। हर एक 5 मिनट में झील से एक नौजवान का शव बरामद किया जा रहा था। लगभग 30-35 मिनट में झील से 7 युवकों के शव बरामद कर लिए गए।

मौके पर मौजूद भीड़, इनसेट में युवकों का सामान 

हादसे में चार युवक सुरक्षित बचे हैं, जिन्होंने ही झील में डूबे युवकों की पहचान बता दी थी। शिनाख्त में पुलिस को कोई दिक्कत नहीं हुई। बताया जा रहा है कि मरने वालों की उम्र 16 से 35 साल के बीच थी।

मोहाली के समीप बनूड गांव से ये युवक शक्तिपीठ बाबा बालकनाथ के दर्शनों के लिए घर से निकले थे। रास्ते में बाबा गरीबदास मंदिर के नजदीक झील में नहाने उतर गए। अंतिम समाचार के मुताबिक युवकों के परिजन घटनास्थल पर नहीं पहुंचे थे।

जांच में ये भी सामने आया है कि एक युवक को बचाने की कोशिश में 6 युवकों ने दोस्तों की भी दर्दनाक मौत हो गई।

उल्लेखनीय है कि हादसे में अरुण व लखवीर पुत्र रमेश कुमार की मौत हुई है। दोनों ही सगे भाई थे। हादसे में सुरक्षित बचे युवक भी गहरे सदमे में नजर आए।

शवों की बरामदगी के बाद सर्च ऑपरेशन को बंद कर दिया गया। डीएसपी (मुख्यालय) कुलविंदर सिंह ने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। गौरतलब है कि हिमाचल में मूसलाधार बारिश के कारण सिरमौर, कुल्लू, शिमला, सोलन जिलों में लगातार भूस्खलन भी हो रहे हैं।

डूबने वालों की पहचान रमन पुत्र लाल चंद, पवन पुत्र सुरजीत राम, अरुण पुत्र रमेश कुमार, लव पुत्र लाल चंद, लखवीर पुत्र रमेश कुमार, विशाल पुत्र राजू, शिवा पुत्र अवतार सिंह के तौर पर हुई है।