HPPR
|

देश भर में बरसात से त्राहि त्राहि तो किन्नौर के इस क्षेत्र में गंभीर सूखे के हालात… 

रिकांगपिओ, 30 जुलाई : सूखे की मार झेल रहे पूह उपमंडल के स्पीलो पंचायत क्षेत्र का एक प्रतिनिधिमंडल उपायुक्त किन्नौर से मिले।  मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को ज्ञापन भेज कर स्पीलो पंचायत क्षेत्र को सूखाग्रस्त पंचायत घोषित कर ग्रामीणों को आजीविका के लिए समुचित सहायता व पशुओं के लिए चारा उपलब्ध करवाने की मांग की है। 

ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से कहा है कि स्पीलो-करला ग्राम क्षेत्रों में गंभीर सूखे के कारण खेत खाली पड़े हैं। बागीचों में फलदार पेड़ भी सूखते जा रहे हैं। यहां तक कि खेत-बगीचे व चारागाह सूख गए हैं। पशुओं के लिए घास की भारी किल्लत हो गई है। आगे आने वाली सर्दी में पशुओं के लिए चारे की भी भारी समस्या आने वाली है।

ग्रामीणों ने कहा कि उप मण्डल पूह का समूचा क्षेत्र शुष्क क्षेत्र की श्रेणी में आता है, बरसात के मौसम में भी क्षेत्र में वर्षा नाम मात्र की होती है। इस प्रकार इस क्षेत्र में खेती-बागवानी सिंचाई द्वारा ही संभव है। सूखे से नालों का पानी बिल्कुल कम हो गया है। इस पंचायत में स्पीलो क्षेत्र की जमीनों की सिंचाई कानम नाले के पानी से होती थी। उस नाले का पानी पहले कानम और लाबरंग दो ग्रामों में प्रयोग होता है।

तत्पश्चात बचा हुआ पानी स्पीलो क्षेत्र की जमीनों की सिंचाई के लिए प्रयोग में लाते थे। इस वर्ष कानम नाले में पानी बहुत कम होने के कारण नाले का पूरा पानी लाबरंग और कानम के ग्रामीण दिन-रात अपने खेतों में प्रयोग किया जा रहा है। जिस कारण स्पीलों क्षेत्र की जमीनों के लिए पानी बिल्कुल नहीं है। स्पीलो क्षेत्र की जमीनों को गंभीर सूखे का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने सरकार से हर सम्भव सहायता की मांग की है, ताकि ग्रामीणों को राहत मिल सके।