HPPR
|

प्रदेश में 169 परियोजनाओं के माध्यम से 10498 मेगावाट क्षमता का हो रहा दोहन… सुरेश कश्यप

राजगढ़, 29 जुलाई ; आज़ादी अमृत महोत्सव के तहत उज्जवल भारत, “उज्ज्वल भविष्य ऊर्जा-2047” के अन्तर्गत उप मण्डल स्तरीय बिजली महोत्सव समारोह का आयोजन शुक्रवार को अम्बेडकर भवन राजगढ़ में किया गया। इस अवसर पर सांसद लोकसभा सुरेश कश्यप ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की और स्थानीय विधायिका रीना कश्यप विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहीं। 

यह कार्यक्रम केंद्रीय मंत्रालय, नवीन ऊर्जा एवं नवीकरण ऊर्जा मंत्रालय व प्रदेश सरकार के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया। इस अवसर पर सांसद ने कहा कि हिमाचल प्रदेश वर्तमान में चिन्हित 24587 मेगावाट दोहन योग्य क्षमता में से 10498 मेगावाट क्षमता का दोहन 169 परियोजनाओं के माध्यम से कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में प्रदेश में विद्युत क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास सुनिश्चित हुआ है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में देश में 2,48,554 मेगावाट बिजली तैयार होती थी, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में बढ़कर 4,00,000 मेगावाट को गई है। जो देश की कुल बिजली मांग से 1,85,000 मेगावाट अधिक है। उन्होंने कहा कि भारत ने सी.ओ.पी. पैरिस में वचन दिया था कि वर्ष 2030 तक देश ऊर्जा उत्पादन क्षमता को 40 प्रतिशत नवीनकरण ऊर्जा स़्त्रोतों से किया जाएगा और इस लक्ष्य को 9 वर्ष पहले ही हासिल कर लिया गया है। 

आज भारत अक्ष्य ऊर्जा के क्षेत्र में विश्व में चौथे स्थान पर है और अक्षय ऊर्जा स्त्रोतों से देश में 1,63,000 मेगावाट बिजली पैदा हो रही है। इससे पूर्व सांसद सुरेश कश्यप ने जल शक्ति मंडल व खण्ड चिकित्सा अधिकारी कार्यालय का शुभारंभ किया। सांसद ने 98 लाख 37 हजार 9 सौ रूपये की लागत से निर्मित होने वाले आईटीआई राजगढ़ के प्रधानाचार्य आवासीय भवन की आधारशिला भी रखी। 

आवासीय भवन की आधारशिला रखने के लिए निदेशक तकनीकी शिक्षा विभाग विवेक चंदेल ने सांसद का आभार व्यक्त किया।कार्यक्रम के पश्चात् सांसद ने नगर पंचायत राजगढ़ को इलैक्ट्रिक रिक्शा वाहन प्रदान की। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड नाहन के अधीक्षण अभियंता एवं नोडल अधिकारी दर्शन ठाकुर ने केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा विद्युत क्षेत्र में चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।

इस अवसर पर पच्छाद की विधायिका रीना कश्यप और हि.प्र. कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव भंडारी ने भी अपने विचार रखे। इससे पूर्व कार्यकारी उपमंडलाधिकारी एवं तहसीलदार राजगढ़ कपिल तोमर ने मुख्य अतिथि सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

इस अवसर पर कलाकारों द्वारा बिजली बचत व विद्युत उपभोक्ताओं के अधिकारों के बारे में नुक्कड़ नाट्क के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया। इस दौरान सार्वभौमिक घरेलू विद्युतीकरण, ग्राम विद्युतीकरण, विद्युत वितरण प्रणाली का सुदृढ़ीकरण, वन नेशन वन ग्रिड व अक्षय ऊर्जा पर आधारित लघु फिल्मों को भी दिखाया गया। कार्यक्रम के दौरान केन्द्र और प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों ने भी अपने विचार सांझा किए।

इस अवसर पर स्थानीय कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर नगर पंचायत की अध्यक्षा रूबी कक्कड़, बीडीसी अध्यक्षा सरोज शर्मा, जिला परिषद सदस्य सतीश ठाकुर, भाजपा मंडल अध्यक्ष पच्छाद सुरेन्द्र नहेरू, अधीक्षण अभियंता एसजेवीएनएल शिमला आर.एस. कौशल,अधिशासी अभियंता विद्युत नरेंद्र ठाकुर, पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि अधिकारीगण सहित विद्युतीकरण योजनाओं के लाभार्थियों ने भाग लिया।