HPPR
| |

#Mandi : अंडे का फंडा बना रहस्य, न टूटने वाले अंडे को देखने वाले हो रहे चकित… 

मंडी, 23 जुलाई : गोहर उपमंडल की ग्राम पंचायत चैल चौक के सलोई गांव निवासी महेंद्र कुमार को पेड़ से घास काटते समय एक ऐसा अजीबो गरीब अंडा मिला है। ये अंडा पत्थर कि तरह कठोर है। पहले, महेंद्र सिंह ने इसे आम पक्षी का “अंडा” समझा, लेकिन जब अंडे को पेड़ से गिराया तो यह टूटा नही। यह देखकर महेंद्र चकित हो गए। इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी।     

   महेंद्र कुमार ने बताया कि वे परेशान है कि ये अंडा आखिर किस पक्षी का है, यहां कैसे आया। अंडा पत्थर जैसे कठोर बन चुका है। पाँच फीट ऊपर से गिराने पर भी टूट नहीं रहा है।

उन्होंने बताया कि वो 3 दिन पहले भी पशुओं को शहतूत का घास काटने पेड़ पर चढ़ा था, उसे पेड़ों की टहनियों के बीचो बीच एक सफेद रंग का अंडा दिखाई दिया। महेंद्र ने बताया कि इस अंडे का किसी पक्षी का समझकर वह पेड से नीचे उतर गया।    

 शनिवार सुबह फिर से वह उसी पेड़ से घास काटने गया तो इस बार उसने अंडे को हाथ में लिया। अंडे को हाथ में लेते ही वह चकित रह गया, क्योंकि इस अंडे का वजन आम की की मार्फत ज्यादा था। जिसे देखकर वो हैरान रह गया। अंडे को डर की वजह से नीचे गिरा दिया। हैरानी की बात तो तब हुई जब अंडा खेत मे गिरा  लेकिन टूटा नहीं। इस अंडे का आकार मुर्गी के अंडे जितना है, मगर वह आम अंडे से थोड़ा छोटा मगर बजन में 86 ग्राम वजनी है।

 इसकी सूचना महेंद्र कुमार ने वैटनरी विभाग गोहर को भी दी और अंडे को लेकर स्वयं उपमंडलीय पशु चिकित्सालय गोहर पहुंचे। गोहर मे तैनात डॉ नंद किशोर ने गहनता से अंडे की जाँच कर बताया कि यह अंडा किसी भी बड़े पक्षी का हो सकता है। उनके संज्ञान में ऐसा पहला मामला आया है, जिसे देखकर वे भी हैरान है।

अंडे को जब तेज रोशनी में जांचा गया तो उसमें से रोशनी क्रॉस हो गई, इससे लगता है कि ये किसी पक्षी का है। इसकी सही जांच के लिए अंडे को वाइल्ड लाइफ सेंचुरी को भेजा गया है। जांच के बाद ही इसके बारे में कुछ कहा जा सकता है। फिलहाल यह अंडा किसी सामान्य पक्षी का नही लगता है।