HPPR
| |

31 जुलाई तक E-KYC न होने पर बंद हो जाएगी किसान सम्मान निधि की किस्त

मंडी, 21 जुलाई :  भारत सरकार के द्वारा किसानों के लिए चलाई गई किसान सम्मान निधि का लाभ उन किसानों को नहीं मिलेगा जो 31 जुलाई तक ई केवाईसी नहीं करवाएंगे। जिला में भी करीब 65 प्रतिशत किसानों ने अभी तक अपनी ई केवाईसी नहीं करवाई है जिन्हें आने वाले समय में सरकार से वार्षिक तौर पर मिलने वाली छः हजार रुपए की मदद नहीं मिलेगी।

इसके लिए अब जिला प्रशासन ने सभी एसडीएम और संबंधित विभागों के अधिकारियों को आने वाले दस दिनों में मिशन मोड चलाकर जिला के सभी पात्र किसानों की ईकेवाईसी करवाने के दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं ताकि पात्र किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ मिल सके। 

वीरवार को मंडी में आयोजित एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते एडीएम मंडी अश्वनी कुमार ने बताया कि यदि 31 जुलाई तक जिला के पात्र किसान अपना ई केवाईसी अपडेट नहीं करते तो सरकार के दिशा निर्देशों पर उन्हें मिलने वाली निधि नहीं दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि जिला के 65 प्रतिशत किसानों ने अभी तक अपना ई केवाईसी नहीं करवाया है जिसके लिए अब जिला में 10 दिनों तक एक अभियान चलाकर सभी पात्र किसानों के ई केवाईसी करवाने के लिए मुहिम चलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि किसान मोबाइल के माध्यम से स्वयं या फिर लोक मित्र केंद्र पर जा कर ई केवाईसी करवा सकते हैं।

वहीं, एडीएम मंडी अश्वनी कुमार ने बताया कि जिला में पहले अपात्र किसानों को दी गई निधि की रिकवरी भी जारी है। जिसमें अभी तक 1 करोड़ से ज्यादा की रिकवरी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में भी अपात्र किसानों की पहचान और उन्हे मिल चुकी किसान सम्मान निधि की रिकवरी जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि जिला में लगभग 5930 अपात्र किसान हैं जिन पर कार्यवाही की जा रही है।