HPPR
|

HRTC पेंशनर्स के साथ सरकार कर रही है वोट की राजनीति, मांगों को लेकर दिया अल्टीमेटम 

शिमला, 19 जुलाई : एचआरटीसी पेंशनर्स को मुख्यमंत्री व परिवहन मंत्री गुमराह करने का काम कर रहे हैं। एचआरटीसी पेंशनर्स को अभी तक रिवाइज पेंशन देने के आदेश नहीं हुए है। 2016 के बाद पेंशनर्स को भत्तों के करोड़ों रुपये के भुगतान नहीं हुए हैं। यह बात शिमला में पत्रकार वार्ता के दौरान एचआरटीसी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक पुरोहित ने कही।

अशोक पुरोहित ने कहा कि 2016 के बाद रिटायर हुए पेंशनरों को कोई भी लाभ नहीं मिल रहा है। सरकार वोट की राजनीति कर रही है। एचआरटीसी पेंशनर्स को कभी भी समय पर पेंशन नहीं मिलती है। सरकार कहती है कि रिवाज़ बदलेंगे लेकिन रिवाज़ जनता बदलेगी। एचआरटीसी को राजनितिक लूट का अड्डा बना दिया है। 

उन्होंने सरकार को 45 दिन का समय दिया और कहा कि अगर उनकी मांगो की सुनवाई नहीं हुई, तों सभी पेंशनर्स मांगो को लेकर सचिवालय के बाहर सामूहिक अनशन करेंगे। पूर्व में भी सरकारों ने उनके साथ अन्याय किया जिसके बाद लोगों ने बीजेपी सरकार को चुना लेकिन इस सरकार ने उनके साथ वादाखिलाफ़ी की है।