HPPR
|

अब लाहौल घाटी को मिलेगी निरंतर विद्युत आपूर्ति, सोलर पावर प्लांट की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 

 लाहौल-स्पीति, 14 जुलाई : हिमाचल राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड और सेकी के संयुक्त रूप से वीरवार को सेरेमनी की गई। यह ब्रेकिंग सेरेमनी 2 मेगावाट के सोलर पावर प्लांट की रंगरिक गांव में की गई।

इस मौके पर एसडीएम गुंजीत सिंह चीमा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। इस पावर प्लांट पर अनुमानित लागत करीब 20 करोड़ खर्च होगी। इसके साथ ही 1 मेगावाट  ऑवर का बैटरी बैकअप भी होगा। यहां से उत्पादित होने वाली विद्युत का कनेक्शन ग्रिड से रहेगा। इस प्लांट का कार्य अक्टूबर 2022 तक पूरा हो जाएगा। प्लांट में 3700 मॉड्यूल लगेंगे।

एसडीएम गुंजीत सिंह चीमा ने बताया कि इस सोलर पावर प्लांट के लगने से बिजली की समस्या दूर हो जाएगी। वहीं, स्थानीय लोगों को फायदा भी होगा, तथा टूरिस्टों को सर्दियों में होटल होम स्टे में बेहतर सुविधाएं मिल पाएगी। इस मौके पर सेकी कंपनी के अधिकारी, एक्सईन मनीष आर्य, टीएसी सदस्य पालजोर बौद्ध, रंगरीक ग्राम पंचायत की प्रधान सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे। 

स्पीति घाटी में जल्द ही बिजली आपूर्ति का समस्या का समाधान इस सोलर प्लांट के लगने से हो जाएगा। सर्दियों के दिनों में लोगों को बेहतर और निरंतर विद्युत आपूर्ति मिल पाएगी। स्पीति घाटी में करीब 4100 के विद्युत कनेक्शन है। स्पीति में करीब 1.8 मेगावाट की आवश्यकता होती है। वहीं, सोलर पावर प्लांट 2 मेगावाट की विद्युत आपूर्ति करेगा।