HPPR
|

75% विकलांगता भी नहीं आई आड़े, मंडी से लेह कार ड्राइव कर “सन्नी” ने बनाया रिकार्ड…

मंडी, 14 जुलाई : कहते हैं कि उड़ान पंखों से नहीं हौंसलों से भरी जाती है। मंडी के सन्नी ने इस कहावत को साबित कर दिखाया है। 75 प्रतिशत विकलांग सन्नी ठाकुर ने मंडी से लेह, फिर वापिस मंडी लगभग 2546 से ज्यादा किलोमीटर की कार ड्राइव करके रिकार्ड बनाया है।

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड व एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कर सन्नी ने मंडी जिला का नाम रोशन किया है। जिला के बल्ह के ख्यूरी गांव के रहने वाले सन्नी को वीरवार को मंडी जिला प्रशासन की ओर से इस उपलब्धि के लिए सम्मानित किया गया। इस मौके पर एडीसी जतिन लाल ने सन्नी ठाकुर को बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। 

एडीसी जतिन लाल ने कहा कि सन्नी ठाकुर सभी के लिए एक प्रेरणा स्त्रोत बने हैं, जिनका अनुसरण कर बाकि स्पेशल लोगों को भी स्पोर्टस या किसी अन्य क्षेत्र में आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने प्रशासन की ओर से सन्नी को हर प्रकार की सहायता प्रदान करने का भरोसा भी दिलाया।

सन्नी ठाकुर ने उनका सहयोग करने वाले सभी लोगों का आभार जताया। सन्नी ने कहा कि इस रिकार्ड को बनाने का उनका लक्ष्य हिमाचल में पैरा स्पोर्टस को बढ़ावा देना है। सन्नी ने बताया कि इसके बाद अब वे लेह से कन्याकुमारी तक की यात्रा पूरी कर एक और रिकॉर्ड बनाना चाहते हैं।

सन्नी ठाकुर के पिता सूरज सिंह ने बताया कि सन्नी का सपना आज पूरा हुआ है। उन्होंने कहा कि उन्हें अपने बेटे सन्नी पर गर्व है कि उसने 75 प्रतिशत विकलांग होते हुए भी इतने कठिन रिकार्ड को बनाया है। सूरज सिंह ने उनका इस कार्य में सहयोग देने वाले सभी का आभार जताया।

 बता दें कि सन्नी ठाकुर एक स्पोर्ट्स पर्सन रहा है। प्रशिक्षण के दौरान दुर्घटनावश स्पाइन इंजरी के कारण 75 प्रतिशत शरीर ने काम करना बंद कर दिया। सन्नी ने फिर भी हौसला नहीं हारा। सन्नी ने एक स्पेशल कार बनवाई, जो हाथों से ही ऑपरेट होती है, जिसकी बदौलत सन्नी ठाकुर वर्ल्ड रिकार्ड बनाने निकल पड़े हैं।