HPPR
|

चौपाल में शनिवार की छुट्टी ने बचाए कई जीवन, इमारत गिरना हो सकता था बड़ा हादसा

शिमला, 10 जुलाई : महीने के दूसरे शनिवार की छुट्टी ने हिमाचल प्रदेश में कई लोगों की जान बचा ली। शायद कोई और दिन होता तो एक बड़ा हादसा पेश आ सकता था।दरअसल, शिमला के चौपाल उपमंडल में शनिवार को एक 4 मंजिला इमारत अचानक जमींदोज हो गई। महज कुछ ही पलों में इमारत ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और मलबे के ढेर में तब्दील हो गई।

बड़ी बात यह है कि चार मंजिला ईमारत में एक यूको बैंक,  एक ढाबा, एक बियर वार और अन्य  दुकानें भी चल रही थी। चूंकि महीने के दूसरे शनिवार को बैंक में छुट्टी होती है लिहाजा बैंक में न तो कोई कर्मी मौजूद था और न ही लोग। किसी और दिन यह हादसा होता तो कई लोगों की जान जा सकती थी। 

हादसा शनिवार दोपहर 12:30 बजे के करीब पेश आया। बताया जा रहा है कि निचली मंजिल में एक बीयर बार कर्मचारी चंदन शर्मा ने जैसे ही शीशे के चटकने की आवाज सुनी तो वह बिल्डिंग से बाहर आया। बिल्डिंग के गिरने का अंदेशा हुआ तो उसने शोर मचाया, जिस कारण सभी लोग बाहर निकल गए। इसके बाद चंद सेकेंड में ही 4 मंजिला इमारत मलबे के ढेर में तब्दील हो गई। 

कुल मिलाकर शनिवार को छुट्टी ने कई लोगों की जान बचाई है। स्वाभाविक तौर पर लोग यदि बैंक खुला होता तो बैंक के कर्मी सहित वहां कई लोग मौजूद होते। जिस कारण बड़ा हादसा पेश आ सकता था।