HPPR
|

किसानों-बागवानों की नकदी फसलों का खेतों में निरीक्षण करने पहुंचे उपायुक्त डीसी राणा

चंबा, 09 जुलाई : आकांक्षी जिला चंबा में किसानों व बागवानों की आर्थिकी को मजबूत करने के उद्देश्य से कृषि व उद्यान विभाग द्वारा सतत प्रयास किए जा रहे हैं। संबंधित विभागों की कार्य योजनाओं के माध्यम से लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है।

उपायुक्त चंबा ने साहू क्षेत्र की विभिन्न ग्राम पंचायतों के किसानों व बागवानों की नकदी फसलों का खेतों में निरीक्षण करने के उपरांत कहा कि सुभाष पालेकर प्राकृतिक खेती और हाई डेंसिटी प्लांटेशन तथा होम स्टे योजना और जोखिम प्रबंधन पशु बीमा योजना तथा किसान क्रेडिट कार्ड योजना से अधिक से अधिक जुड़कर लाभ प्राप्त करें। 

उपायुक्त डीसी राणा ने बताया कि जिला चंबा में 9856 किसान सम्पूर्ण या आंशिक रूप से सुभाष पालेकर प्राकृतिक खेती की विधि से लगभग 945 हेक्टेयर क्षेत्र में खेती कर रहे है। इन सभी किसानों को कृषि विभाग के राज्य परियोजना कार्यान्वयन इकाई शिमला द्वारा शत – प्रतिशत प्राकृतिक खेती उत्पादन के प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। ताकि ऐसे सभी किसानों को अपनी फसलों के उत्पादों का बाजार में सही दाम मिल सके। 

इस दौरान उन्होंने शत प्रतिशत प्राकृतिक खेती उत्पादन के मौके पर मौजूद किसानों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए। 
इस दौरान उप कृषि निदेशक डॉ. कुलदीप सिंह धीमान, डॉ. योगेंद्र पाल कौशल, उप मंडलीय भू संरक्षण अधिकारी चम्बा, डॉ. अजय कपूर, कृषि प्रसार अधिकारी महिला,  कनिष्ठ अभियंता ललित उद्यान विभाग से डॉ प्रमोद शाह तथा ग्रामीण विकास विभाग से खंड विकास अधिकारी महिला व खंड विकास अधिकारी चम्बा भी मौजूद रहे।