|

तीन वर्षों से अधर में लटका चमियाणा पुल निर्माण, बारिश के चलते मलबे में फंसी रही गाड़ियां

शिमला  06 जुलाई : राजधानी से सटे चमियाणा में निर्माणाधीन पुल के साथ बीती रात भारी बारिश के चलते मलबे आने से दो गाड़ियां इसकी चपेट में आ गई। हालांकि गाड़ियों को मलबे से बाहर निकाल लिया गया है। लेकिन पुल का कार्य अधर में लटका होने को लेकर प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी की सदस्य विजय ज्योति सेन ने कसुंपटी के विधायक पर निशाना साधा है।

कांग्रेस विधायक को आड़े हाथों लेते हुए विजय ज्योति ने कहा कि विधायक को कसुंपटी निर्वाचन क्षेत्र की कोई चिंता नहीं है।चमियाणा पुल का निर्माण कार्य बीेते तीन वर्षों से लटका पड़ा है, जिसके चलते हर वर्ष बरसात के मौसम में क्षेत्र के लोगों को आए दिन परेशानी से जूझना पड़ता है। लेकिन विधायक ने इस पुल के निर्माण के लिए कभी सीएम से भेंट नहीं की। विजय ज्योति सेन ने कहा कि बीते 10 वर्षों से विधायक ने ऐसा कोई भी कार्य नहीं किया है, जिसे विकास कार्य में गिना जा सके। 

उन्होंने कहा कि बीते 20 वर्षों से कसुंपटी विस में कांग्रेस का प्रतिनिधित्व है। इस अवधि के दौरान कसुंपटी विस विकास के क्षेत्र में पिछड़ा है। उन्होंने कहा कि विधायक की मांग पर बजट का आबंटन होता है। परंतु बीते साढ़े चार वर्षों में कसुपंटी विस के विधायक विकास कार्याें के लिए कभी मुख्यमंत्री से एक बार भी नहीं मिले। जबकि मुख्यमंत्री प्रदेश के हैं, और उनके पास पक्ष व विपक्ष के विधायक अपने क्षेत्र के विकास के लिए जाते हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि क्षेत्र के विधायक कहां लापता है, ये सवाल मेरा नहीं है, बल्कि यह सवाल कसुंपटी के हर उस व्यक्ति का है जो विकास की आस लगाए बैठा है।