|

जुन्गा में खुली 20वीं पुलिस कैंटीन, कर्मचारियों को मिलेगा सस्ती दरों पर सामान

शिमला, 30 जून : पुलिस महानिदेशक हिमाचल प्रदेश संजय कुंडू ने प्रथम सशस्त्र पुलिस वाहिनी जुन्गा में 20वीं केंद्रीय पुलिस कैंटीन का शुभारंभ किया। इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कैंटीन के खुलने से सेवारत और सेवानिवृत पुलिस कर्मचारी को उचित दर पर अच्छी क्वालिटी का सामान उपलब्ध होगा।

उन्होने प्रदेश में केंद्रीय पुलिस कैंटीन सेवा आरंभ करने का श्रेय समादेशक भगत सिंह ठाकुर को दिया। कहा कि इस समय प्रदेश के सभी जिला मुख्यालय व पुलिस बटालियनों में कर्मचारियों की सुविधा के लिए केंद्रीय कैंटीन खोली गई है। जिसका वार्षिक टर्नओवर करीब 89 करोड़ का है, जिसमें करीब 80 लाभ का लाभांश विभाग को मिला है।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि पुलिस ढांचे को सुदृढ़ करने पर विशेष बल दिया जा रहा है। बीते वर्ष सरकार द्वारा 194 करोड़ की लागत के  212 प्रोजेक्ट स्वीकृत किए गए है। जिनमें पुलिस थाना, पुलिस चौंकी और बटालियनों में भवनों का निर्माण किया जा रहा है, ताकि पुलिस कर्मचारी अच्छे वातावरण में कार्य कर सके। इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग में करीब दो हजार करोड़ के प्रोजेक्ट प्रस्तावित है।

उन्होने बताया कि पुलिस विभाग के कर्मचारियों की सेलरी को भारतीय स्टेट बैंक के साथ जोड़ा गया, जिससे ड्यूटी के दौरान कोई हादसा होने पर कर्मचारियों को समाजिक सुरक्षा मिल रही है। इस योजना के तहत किसी अनहोनी घटना होने पर तीस लाख तथा प्राकृतिक मृत्यु होने पर दो लाख का कवर मिलता है। यह लाभ विभाग के अनेक कर्मचारियों के परिजनों को मिल चुका है। बीते वर्ष के दौरान 394 गाड़ियां सरकार से विभाग को मिली है, जिसमें 286 गाड़ियां और 108 मोटर साईकिल शामिल है।

डीजीपी ने कहा कि पुलिस आर्केस्ट्रा अर्थात हारमनी ऑफ पाइन को सभी आधुनिक सुविधाएं प्रदान करके सशक्त बनाया है, जिससे पुलिस आर्केस्ट्रा का नाम देश में रोशन हुआ है। उन्होने बताया कि पुलिस विभाग में वर्ष 2015-16 में भर्ती हुए कर्मचारियों का ग्रेड पे के मामले को प्रदेश सरकार ने सुलझा दिया है, जिससे कर्मचारियों को काफी लाभ मिला है।

इससे पहले समादेश प्रथम सशस्त्र वाहिनी जुन्गा भगत सिंह ठाकुर ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया और बटालियन की विभिन्न गतिविधियों पर प्रकाश डाला। उन्होने बताया कि पुलिस परिसर जुन्गा में शीघ्र ही एसबीआई का एटीएम स्थापित किया जाएगा, जिसके लिए बैंक द्वारा सभी औपचारिकताएं पूरी कर दी गई है।

इस मौके पर उप समादेश दुश्यंत सरपाल के अतिरिक्त एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक व अन्य स्टाफ सदस्य मौजूद रहे। डीजीपी संजय कुंडू के जुन्गा पहुंचने पर विभाग के कर्मचारियों ने भारी बारिश के बावजूद भी गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।