HPPR
|

नहीं रहे पशुपालन विभाग के पूर्व संयुक्त निदेशक डाॅ. कल्याण सिंह, हरिपुरधार से शुरू

नाहन, 18 नवंबर : करीब 63 वर्षीय डाॅ. कल्याण सिंह चौहान ने संसार को त्याग दिया है। पशुपालन विभाग (Department of Animal husbandry)में संयुक्त निदेशक के पद से 31 अक्तूबर 2016 को सेवानिवृत (Retired) डाॅ. कल्याण ने हरियाणा के रोहतक में बुधवार सुबह अंतिम सांस ली। सोलन में अंतिम संस्कार किया जा रहा है। 1983 में डाॅ. कल्याण ने बतौर पशु चिकित्सा अधिकारी (Veterinary officer) हरिपुरधार से अपना कैरियर शुरू किया।

6 साल तक सेवाएं देने के बाद वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी के तौर पर पांवटा साहिब व राजगढ़ में सेवारत रहे। इसके बाद सहायक निदेशक के पद पर प्रमोट (promote) हुए। इस दौरान कुक्कुट केंद्र कांशीवाला में भी अपनी सेवाएं प्रदान की। डाॅ. कल्याण को अपने पैतृक जिला सिरमौर में बतौर उपनिदेशक सेवाएं देने का भी मौका मिला। सेवाओं के दौरान विभाग (Department) में कई उपलब्धियां अर्जित की।

कैरियर के अंतिम पड़ाव पर डाॅ. कल्याण को विभाग में संयुक्त निदेशक के पद पर पदोन्नति मिली थी। पारिवारिक जानकारी के मुताबिक वो किडनी की बीमारी से पीड़ित थे। इस सिलसिले में प्रत्यारोपण सफल नहीं हो पाया था। हालांकि कोविड को मात देने में सफल हुए थे, लेकिन किडनी ट्रांसप्लांट सफल न होने की वजह से निधन हो गया। समूचे विभाग में डाॅ. कल्याण के निधन पर शोक की लहर है। वो एक मिलनसार व सौम्य स्वभाव की शख्सियत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.