HPPR

कमाऊ पूत बन गया जाखू रोपवे, हर दिन 1 लाख की कमाई 

शिमला (एमबीएम न्यूज) : राजधानी का पहला जाखू रोपवे कमाऊ पूत साबित हो रहा है। रोपवे का संचालन करने वाली कंपनी यहां पर हर दिन एक लाख से अधिक रुपये कमा रही है। राजधानी आने वाले देशी-विदेशी सैलानियों के लिए रोपवे आकर्षण का केंद्र बना हुआ है और रोपवे से महज पांच मिनट में जाखू पहुंच रहे हैं। आजकल पर्यटन सीजन पीक पर चल रहा है और हर दिन सैंकड़ों सैलानी रोपवे में सफर कर रहे हैं। वीकएंड पर सैलानियों की तादाद में बढ़ोतरी हो जाती है। अगले माह में पर्यटकों की तादाद बढ़ने से जाखू रोपवे की कमाई में और अधिक इजाफा होगा।
          रोपवे का संचालन करने वाली कंपनी प्रति व्यक्ति 550 रूपये फीस (आने-जाने) ले रही है। जबकि एक तरफ जाने का प्रति व्यक्ति किराया 300 रूपये है। रोप-वे के अपर और लोअर स्टेशन के बीच दो-दो केबिन चलाए जा रहे हैं। एक केबिन में एक साथ छह लोग बैठ सकते हैं।  इस तरह रोप-वे के द्वारा एक साथ कुल 24 लोग यात्रा कर सकते हैं।
        कंपनी के अधिकारियों के अनुसार पर्यटन सीजन के चलते बड़ी तादाद में सैलानी जाखू रोपवे की सैर कर रहे हैं, जिससे रोपवे से अच्छा मुनाफा हो रहा है।
       सैलानियों की सुविधा के लिए कंपनी अब रोपवे के लोअर टर्निमल यूएस क्लब में रेस्टोरेंट खोलने की तैयारी कर रही है। यहां सैलानियों को ब्रेकफास्ट, लंच, डीनर और फास्ट फूड की सुविधा मिलेगी। रोपवे के अप्पर टर्निमल जाखू में हनुमान मंदिर तक जाने के लिए पक्का रास्ता बनाया जा रहा है। इसके अलावा कंपनी बहुत जल्द रोपवे के लिए ऑनलाइन टिकट प्रक्रिया भी शुरू कर रही है।
        विगत माह 10 अप्रैल को जाखू रोपवे शुरू हुआ था। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने इसका उदघाटन किया था। इसे बनने में करीब 10 साल लग गए। स्विट्जरलैंड की तकनीक पर बनाए गए इस रोप-वे के निर्माण पर जेक्सन कंपनी ने करीब 30 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.